Thursday, 11 January 2018

Meri Khamoshi Biya Kar - Hindi Shayari

                                       Meri Khamoshi Biya Kar - Hindi Shayari


मेरी ख़ामोशी बिया कर गयी वो जो,
 जुवा अब तक न कह पाई थी .

 Meri Khamoshi Biya Kar Gyi Vo Jo ,
Zuva Ab Tak Na Keh Payi Thi ,

Wednesday, 15 November 2017

Hindi Shayari-अजीब है यह दिल.......


अजीब है  यह दिल न तुझे भूलता है ,
और न तुझे याद करना चाहता है !

Saturday, 28 October 2017

कुछ दोस्त खफ़ा हो गए .......

 कुछ दोस्त खफ़ा हो गए है,
लगता है हमारी सोहबत उन्हें अब रास नही आती।

दिल को धड़का कर तड़पा कर.......

दिल को धड़का कर तड़पा कर यूँ वो दूर जाते है,
जैसे दुश्मन की जान ले रहा हो कोई शान से।

तेरे ना होने से कोई फर्क.......

तेरे ना होने से कोई फर्क तो नही पड़ता,
पर जब तू पास होता है तब ही जीने का एहसास होता है।

Friday, 13 October 2017

मेहबूब मेरा मुझसे दूर .......

मेहबूब मेरा मुझसे दूर हो रहा है,
शायद किसी ओर के नज़दीक हो रहा है।

न करेंगे कभी कोई शिकवा......

न करेंगे  कभी कोई शिकवा तुमसे,

शर्त इतनी है मुस्कुराहट तेरे चेहरे से खो न पाए।

Friday, 6 October 2017

एक टूटा सा दिल है.......

एक टूटा सा दिल है मेरे पास जो तुमने ठुकराया था,
वो अब भी तड़प रहा है उस ठोकर की चोट से।

Saturday, 12 August 2017

कुछ दोस्त खफ़ा हो गए .......

कुछ दोस्त खफ़ा हो गए है,
लगता है हमारी सोहबत उन्हें अब रास नही आती।


Saturday, 5 August 2017

हर लफ्ज़ तेरे लिए कुछ.......

हर लफ्ज़ तेरे लिए कुछ कहना चाहते हैं,
पर दिल की सोच से कम नज़र आते है।
हमारी गिनती तो आम इन्सानो मे ही होती है ,
पर ये दिल के जज़्बात बेपनाह मोहब्बत,
खुद पर गुरुर करने को मजबूर कर देती  हैं,।

Wednesday, 2 August 2017

मुमकिन भी कैसे हो मिलना.......

मुमकिन भी कैसे हो मिलना उनसे,
रूठ बैठे है,वो हमसे हम उनसे ।

Friday, 28 July 2017

जिंदगी भले #छोटी.......

#जिंदगी  भले #छोटी दे #देना #ऐ_खुदा, मगर #देना_ऐसी कि #मुद्दतों_तक  #लोगो  के #दिलों  मे #जिंदा_रहे ।

Sunday, 23 July 2017

बादल बरस रहे .......

बादल बरस रहे है बाहर,
और यादें बरस रही है अंदर