Sunday, 2 July 2017

ए बारिश, ज़रा उनको भी.......

ए बारिश, ज़रा उनको भी भीगा दे,
मैं ही कब तलक तडपु उनकी याद में ??
तुम भी भीग के देख लो इस बारिश में ज़रा,
मेरी तड़प का कुछ अंदाजा तो होगा। 



No comments:

Post a Comment