ads

Wednesday, 5 July 2017

मेरी चोट ने ही तुझे इतना बदल-मेरी शायरी


Meri chot ne hy tujeh itna badal diya,
Barna tum itne begane na the,
Khohish nhi ki tuje aur tadpaye hum,
Bs dil kaboo mei aa jaye to hum bhi chal denge.

मेरी चोट ने ही तुझे इतना बदल दिया है,
वरना तुम इतने बेगाने न थे,
ख़्वाहिश नही की तुझे ओर तड़पाये हम,
बस दिल क़ाबू में आ जाये तो हम भी चल देंगे

No comments:

Post a Comment