Wednesday, 5 July 2017

मेरी चोट ने ही तुझे इतना बदल......

मेरी चोट ने ही तुझे इतना बदल दिया है,
वरना तुम इतने बेगाने न थे,
ख़्वाहिश नही की तुझे ओर तड़पाये हम,
बस दिल क़ाबू में आ जाये तो हम भी चल देंगे

No comments:

Post a Comment